B.ED और BTC में क्या अंतर है? जाने कौन है बेहतर बीएड या बीटीसी

bed aur btc me antar: लगभग कई छात्र शिक्षक बनने के लिए ग्रेजुएशन के बाद b.ed या BTC कोर्स करना पसंद करते हैं। परंतु कई छात्र bed aur btc me

B.ED कोर्स क्या है?

B.ed का फुल फॉर्म बैचलर ऑफ एजुकेशन (Bachelor of Education) होता है। यह एक अंडर ग्रेजुएट डिग्री होती है, जो 2 साल का होता है। इस कोर्स के अंतर्गत छात्रों को टीचर बनने की ट्रेनिंग दी जाती है। तो यदि आप टीचर बनना चाहते हैं तो आप Graduation करने के बाद b.ed कर सकते हैं। क्योंकि टीचर बनने के लिए यह सबसे जरूरी डिग्री होती है। 

यदि आप B.ed कर लेते हैं तो आप Primary कक्षा के बच्चों को पढ़ाने के लिए तैयार रहते हैं। B.ed करना शिक्षक बनने की ओर का पहला कदम होता है। B.ed में कुल 4 सेमेस्टर होते हैं, जिसमें आपको अलग-अलग चीजें शिक्षक बनने से संबंधित सिखाई जाती है। 

BTC कोर्स क्या है?

BTC कोर्स भी एक ऐसा कोर्स है, जिसे करके आप अध्यापक बन सकते हैं। BTC कोर्स करके आप सरकारी स्कूल में अध्यापक बन सकते हैं। कोर्स 2017 के बाद से D.El.Ed. बन चुका है। यानी कि अब BTC को D.El.Ed. के नाम से जाना जाएगा। 

बीटीसी का फुल फॉर्म बेसिक ट्रेनिंग सर्टिफिकेट (Basic Training Certificate) होता था। लेकिन अब जब यह D.El.Ed. कोर्स बन चुका है तो डीएलएड का फुल फॉर्म डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन (Diploma in Elementary Education) है। 

डिप्लोमा इन एलीमेंट्री एजुकेशन यानी BTC 2 वर्ष का होता है। जिसमें 4 सेमेस्टर होते हैं। इस कोर्स को करने के बाद भी आप एक सरकारी टीचर बन सकते हैं। 

BTC और B.ED के लिए योग्यता

D.El.Ed./ BTC कोर्स और b.ed कोर्स करने की योग्यताएं एक ही होती है। परंतु यह योग्यता कॉलेज के आधार पर अलग-अलग भी हो सकती है। हम यहां आपको एक सामान्य योग्यता बता रहे हैं जो कि लगभग सभी कॉलेजों द्वारा मांगी जाती है।

  • आपने किसी मान्यता प्राप्त विद्यालय से ग्रेजुएशन पास किया हो। 
  • आपका ग्रेजुएशन में 50% तक के अंक होने चाहिए। इन अंको में OBC/ SC/ ST कैटेगरी वालों के लिए छूट भी मिलती है। 
  • आपकी उम्र कम से कम 18 वर्ष और अधिक से अधिक 35 वर्ष होनी चाहिए।

B.ED और BTC की कोर्स फीस 

चलिए b.ed और BTC की कोर्स फीस के बारे में समझ लेते हैं। कई लोग जानना चाहते हैं कि BTC की फीस कितनी है 2022? तो हमें आपको बता दें कि बीएड और बीटीसी की फीस में ज्यादा अंतर नहीं है। 

  • Private College – यदि आप प्राइवेट कॉलेज से b.ed कर रहे हैं तो कोर्स फीस 51250 रुपए प्रतिवर्ष होती है। वही डीएलएड यानी BTC कोर्स फीस ₹41000 प्रति वर्ष होती है।
  • Government College – वहीं अगर आप सरकारी कॉलेज द्वारा b.ed या BTC कोर्स करना चाहते हैं तो BTC कोर्स फीस ₹10200 प्रति वर्ष होगी। वही b.ed के लिए कोर्स फीस 8000 से ₹20000 प्रति वर्ष होगी। 

कोर्स में एडमिशन

B.ed या BTC कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको प्रवेश परीक्षा से गुजरना होगा। हर वर्ष यह परीक्षा मई और जून के महीने में ली जाती है। यदि हम यहां बात करें उत्तर प्रदेश की प्रवेश परीक्षा तो उत्तर प्रदेश में b.ed और BTC का Entrance Exam जून 2023 में होगा। वहीं बिहार में b.ed और BTC का एंट्रेंस एग्जाम दिसंबर 2023 में होगा।

आप अपने राज्य की ऑफिशल वेबसाइट पर जाकर पता कर सकते हैं कि आपके राज्य में 2023 में किस समय प्रवेश परीक्षाएं हो सकती है।

B.ED के लिए भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज

B.Ed. कोर्स करने के लिए सबसे पहले Entrance Exam को क्लियर कर सकते हैं। या फिर आप किसी प्राइवेट कॉलेज में भी डायरेक्ट एडमिशन ले सकते हैं। हम यहां पर आपको b.ed करने के लिए कुछ भारत की टॉप यूनिवर्सिटीज के बारे में जानकारी दे रहे हैं। 

  • दिल्ली यूनिवर्सिटी
  • इंदिरा गांधी नेशनल ओपन यूनिवर्सिटी बनारस हिंदू विश्वविद्यालय
  • एमिटी इंस्टिट्यूट ऑफ एजुकेशन
  • महात्मा गांधी अंतरराष्ट्रीय हिंदी विश्वविद्यालय
  • गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी
  • लोरेटो कॉलेज, इत्यादि

BTC करने के लिए टॉप भारतीय कॉलेज

आप नीचे दिए गए कॉलेज में एडमिशन लेकर BTC कर सकते हैं और अपने अध्यापक बनने की ओर कदम बढ़ा सकते हैं।

  • बुद्धा कॉलेज ऑफ एजुकेशन
  • एमिटी यूनिवर्सिटी
  • मुंबई यूनिवर्सिटी
  • आईसीएफएआई यूनिवर्सिटी 
  • डाइट यूनिवर्सिटी
  • जयपुर नेशनल यूनिवर्सिटी
  • आर आर ग्रुप ऑफ़ इंस्टीट्यूट लखनऊ, इत्यादि। 

akshat gupta

1 Blog posts

Comments